Sunday, 2 October 2011

खुशखबरी खुशखबरी अब आतंकवाद फैलाना हुआ और भी आसान जुर्म करना हुआ और भी आसान भारत की भ्रष्ट सरकार ने छूट दी है आप जितना मर्ज़ी चाहे आतंकी हमले करो !





खुशखबरी खुशखबरी अब आतंकवाद फैलाना हुआ और भी आसान जुर्म करना हुआ और भी आसान 





भारत की भ्रष्ट सरकार ने छूट दी है आप जितना मर्ज़ी चाहे आतंकी



हमले करो हम कुछ नहीं करेंगे और अगर पकडे भी गए तो आप को अपना दामाद बना कर रखेंगे 





जय हो भारत सरकार ने दामादों को तो न्योता दे ही रखा है और

भारत में चाहे जितने मर्जी बलात्कार करो , गोली मारो , जितने चाहे उतने लोगों को मारो आप को 





कोई सजा नहीं जेब काटो डकेती डालो अक्सिडेंट करो अपनी गाडी के

निचे किसी को भी कुचल दो कोई फरक नहीं पड़ता जितना चाहे उतना भ्रष्टाचार करो आप को कोई 





सजा नहीं जितनी चाहे उतनी मिलावट करो कोई कार्यवाही नहीं जय हो

भारत की भ्रष्ट सरकार की जय हो !!! और किसी प्रकार की कोई जल्दबाजी नहीं है आप इस ऑफर

को कभी भी किसी भी समय उठा सकते हैं जब तक खान्ग्रेस की सरकार है ये सब झूठ आप को है





 जय हो खान्ग्रेस सरकार की !


और ये ऑफर आप को इसलिए दिया जा रहा है भारत में आज़ादी के 64 वर्षों बाद भी 3 करोड़ 33 





लाख 5 हज़ार 845 मामले देश की विभिन्न अदालतों में लंबित हैं !

सुप्रीम कोर्ट के रिटायर्ड चीफ जस्टिस जे . एस . वर्मा के अनुसार इन लंबित मामलों को निपटने में





 लगभग 350 वर्ष लगेंगे ! यह न्याय के नाम पर कितना बड़ा अन्याय है , इस भ्रष्ट सरकार का !

और हमारे इमानदार जज भी कई बार अंग्रेजों द्वारा बनाये गए गलत कानूनों के कारन न्याय की 





अपेक्षा मात्र फेसला ही दे पाते हैं !

भोपाल गैस काण्ड इसका सबसे बड़ा उदाहरण है ! हमें न्याय - व्यवस्था की सत्य के आधार पर 





पुन: रचना करनी होगी ! जिससे न्यायालयों में फेसले नहीं बल्कि न्याय

मिल सके ! नए न्यायालयों , फास्ट ट्रेक कोर्ट व् नए जजों की नियुक्ति करनी होगी ! पर इस भ्रष्ट 





सरकार को देखो न्याय तो करती नहीं है और लगातार अपराध बढ़ता

जा रहा है इस सरकार के पास शराब की दूकान खुलवाने के लिए जगह भी है और लोग बाग़ भी पर 








न्याय के लिए ऐसा कुछ नहीं !

आज कसाब जैसे आतंकवादी जिसे पूरे विश्व ने मुंबई हमले में मासूम लोगों पर गोलियां दागते हुए





 देखा पर उसे आज तक फांसी नहीं हुई और लगातार भारत पर

आतंकी हमले जारी हैं कसब के ऊपर अभी तक 1500 करोड़ से ऊपर का खर्चा हो चूका है अगर यही 





कसाब किसी और देश में होता तो शायद वो कब का फांसी के

तख्ते पर लटक चूका होता पर भारत की भ्रष्ट सरकार चाहती है के ऐसे दामादों की भरमार हो जाये 





भारत में और मासूम भोले भले लोग बस इन्साफ के लिए मरते रहे !

कब तक ऐसा चलेगा भारत में कब तक भारत में कब तक अंग्रेजों के कानून चलेंगे भारत की 





आज़ादी के बाद भी अंग्रेजी कानून यहाँ क्या कर रहे हैं और अब 350

सालों तक इन मामलों को निपटने में लगेंगे और लगातार अपराध बढ़ता जा रहा है और गरीबों का





 शोषण भी क्योंकि अगर किसी मलिला के साथ बलात्कार होता है तो

वो किसी नेता की बीवी बहिन या बेटी के साथ नहीं होता है और अगर भारत में कोई भी आतंकी 





हमला होता है तो वो भी किसी नेता के लिए नहीं होता और न ही उसमे

कोई नेता मरता अगर ऐसा होने लगे तो ये हरामी की ओलत संसद में बेठे घोटालेबाज , अनपढ़ ,





 चोर , भ्रष्टाचारी , बलात्कारी , काले अंग्रेज अपने लिए ही कानून

बनायेगे आज चाहे किसी के साथ कुछ भी होता रहे , कोई सख्त कानून नहीं ! कब हमें इन्साफ 





मिलेगा कब ??????????????????????????
 

No comments:

Post a Comment